अब समय आ गया है, कि मोमबत्ती लेकर जुलूस निकालकर, फेसबुक पर प्रदर्शन चित्र परिवर्तन कर और जन विरोध से परे हटकर कुछ कर दिखाने के लिए.

वह सिर्फ तुमसे बस इतनी आशा करती है की, उसे सम्मान और प्यार मिले, उसकी परवाह की जाये, और जरूरत पड़ने पर उसकी रक्षा की जाये.

स्वयं में वह परिवर्तन लाव आप बाहर लाना चाहते हो, क्योंकि जीतने की क्षमता हमेशा सबसे पहले आपसे शुरू होती है| सरकार और समाज फिर बाद में आता है|

हमसे जुड़ें !

रजिस्टर करें
सूचित रहें